नहीं रहे भारत के सबसे उम्रदराज प्रथम श्रेणी क्रिकेटर

भारत के सबसे उम्रदराज प्रथम श्रेणी क्रिकेटर वसंत रायजी का शनिवार को निधन हो गया. वह 100 साल के थे. इस साल 26 जनवरी को ही वसंत रायजी ने अपनी जिंदगी का शतक पूरा किया था. तब सचिन तेंदुलकर और स्‍टीव वॉ भी उनसे मिलने गए थे.

वसंत रायजी के परिवार में उनकी पत्नी और दो बेटियां हैं. उनके दामाद सुदर्शन नानावटी ने बताया, ‘वह (रायजी) वृद्धावस्था के कारण दक्षिण मुंबई के वालकेश्वर में अपने निवास पर सोते समय 2.20 बजे निधन हो गया.’

वसंत रायजी ने 1940 के दशक में नौ प्रथम श्रेणी मैच खेले थे जिसमें 277 रन बनाए थे. उनका उच्चतम स्कोर 68 रन था. इतिहासकार रायजी तब 13 साल के थे, जब भारत ने दक्षिण मुंबई के बांबे जिमखाना में पहला टेस्ट मैच खेला था.

वसंत रायजी भारतीय क्रिकेट की संपूर्ण यात्रा के गवाह रहे हैं. वह बंबई (अब मुंबई) और बड़ौदा के लिए खेला करते थे. रायजी ने लाला अमरनाथ, विजय मर्चेंट, सीके नायडू और विजय हजारे के साथ ड्रेसिंग रूम साझा किया है. उन्होंने कई किताबें लिखी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *