कोरोना 500 के नजदीक 4 की मौत विकराल होते संक्रमण पर लगाम लगाने हुई आपात बैठक

 

ग्वालियर / ग्वालियर में कोरोना संक्रमण अब तेजी से पैर पसार रहा है। उधर मरने वालों की संख्या भी डरावनी होने लगी है। आज कोरोना ने पिछले अपने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए शनिवार को 477 कोरोना संक्रमित निकले हैं, जो अभी तक के एक दिन में सबसे ज्यादा संक्रमित हैं। इनमें से 19 जिले के बाहर से हैं। इसके साथ ही चार संक्रमित की उपचार के दौरान मौत भी हुई है। इसके साथ ही कुल संक्रमित का आंकड़ा 21364 पर पहुंच गया है। तीन दिन पहले संक्रमित की संख्या 20 हजार पार हुई थी, लेकिन तीन दिन में ही यह 21 हजार पार कर गई है। यदि कोरोना संक्रमण की रफ्तार इस तरह ही चली तो जल्द टोटल लॉकडाउन घोषित करने की स्थिति पैदा हो जाएगी। कोरोना को रोकने के लिए जिला प्रशासन और पुलिस लगातार प्रयास कर रहे हैं। लगातार बैठकों का दौर जारी है। सड़कों पर जागरूक करने के साथ सख्ती का भी प्रयोग किया जा रहा है। शनिवार को शहर में लॉकडाउन होने के बाद भी 95 सेंटर पर टीकाकरण हुआ। इसमें 2074 लोगों ने वैक्सीन लगवाई है।

प्रदेश में लगातार कोरोना संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है। प्रदेश के महानगरों भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन में हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। यहां 60 घंटे का लॉकडाउन घोषित था, लेकिन शनिवार को स्थिति देखते हुए क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक के बाद ज्यादातर बड़े शहरों में शासन ने लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया है, लेकिन ग्वालियर में क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में यह सहमति बनी थी कि लॉकडाउन को आगे बढ़ाने की अपेक्षा हर दिन शाम 6 बजे बाजार बंद करा दिए जाएंगे। पर शनिवार रात को जब कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट आई तो कोरोना ब्लास्ट हुआ है। 2137 सैंपल की रिपोर्ट में 477 नए संक्रमित मिले हैं। इनमें 458 जिले हैं और अन्य 19 बाहर अन्य जिलों से हैं। सैंपल देने वालों में हर पांचवा व्यक्ति कोरोना संक्रमित निकला है।

चार संक्रमित की मौत

शनिवार को कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर चार संक्रमित की मौत भी हुई है। इनमें 3 जिले के हैं और एक झांसी यूपी का है। शनिवार को संक्रमित 67 वर्षीय रामप्रकाश शर्मा निवासी गदाईपुरा, 62 वर्षीय शीला देवी निवासी विनय नगर, 56 वर्षीय रमेश सक्सैना निवासी ग्वालियर की मौत हुई है, जबकि झांसी यूपी निवासी 65 वर्षीय भरतलाल ने भी शनिवार को दम तोड़ दिया है। यह सभी बीते 3 दिन में कोरोना संक्रमित आए थे। इसके साथ ही कुल मौत का आंकड़ा 327 हो गया है।

कोरोना को रोकने के लिए आये कई सुझाव कलेक्टर ने प्रस्ताव भोपाल भेजा, फिलहाल लॉक डाउन नहीं

इंदौर, उज्जैन की तरह ग्वालियर में लॉकडाउन नहीं बढ़ाया जाएगा, बल्कि शाम को बाजार जल्दी बंद कराने के प्रस्ताव पर सहमति बन गई है। शनिवार दोपहर हुई क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में सभी ने कहा है कि कोरोना संक्रमण की चैन तोड़ने के लिए लॉकडाउन बढ़ाना एक मात्र विकल्प नहीं है। बाजारों में टाइम मैनेजमेंट करके भी यह किया जा सकता है। सामान्य दिनों में शाम 6 बजे बाजार बंद करा दिए जाएं।

आवागमन के साधन भी सीमित कर दिए जाएं। इससे व्यापार भी प्रभावित नहीं होगा और कोरोना भी नहीं फैलेगा। बैठक में सांसद ग्वालियर विवेक नारायण शेजवलकर, कलेक्टर ग्वालियर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी, कांग्रेस जिलाध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा, अन्य व्यापारीगण व अफसर मौजूद रहे।

अभी प्रदेश के सभी शहरों में 60 घंटे का लॉकडाउन जारी है। जो शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक जारी रहेगा, लेकिन शनिवार दोपहर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक ली है। इसमें कलेक्टर को अपने-अपने क्षेत्र में परिस्थितियों को देखते हुए लॉकडाउन को बढ़ाने का निर्णय लेने के लिए कहा है। इंदौर में स्थिति पर नियंत्रण के लिए लॉकडाउन बढ़ाया गया था।

अब उज्जैन ने भी 19 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ा दिया है। ऐसी अटकलें थीं, ग्वालियर में भी लॉकडाउन कुछ आगे बढ़ाया जा सकता है, लेकिन क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में कई अहम फैसलों पर सहमति बनी है। सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, व्यापारीगण व अन्य सदस्यों का कहना था कि लॉकडाउन बढ़ाने से व्यापार चौपट हो जाएगा, इसलिए लॉकडाउन बढ़ाने की अपेक्षा बाजार बंद होने का समय रोज शाम 6 बजे कर दिया जाए। इससे यह होगा कि बजारों में शाम के समय अनावश्यक रूप से जुटने वाली भीड़ नहीं पहुंचेगी।

साथ ही, आने जाने के साधन सीमित कर दिए जाएं। इसी प्रस्ताव पर सभी की सहमति भी बन गई है। अभी कलेक्टर ने प्रस्ताव भेजा है। शाम तक यह घोषणा हो सकती है। खुद कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह का मानना है कि इन सभी प्रयासों से कोरोना संक्रमण की चैन को रोकने में सफलता मिलेगी। इस प्रस्ताव से व्यापारी भी सहमत हैं। शाम को जल्दी बाजार बंद होने के बाद बाजारों में टूटने वाली भीड़ पर अंकुश लगेगा। फिलहाल लॉकडाउन बढ़ाने के बारे में नहीं सोचा जा रहा।

यह भी हो सकते हैं फैसले

बैठक में इन प्रस्ताव पर भी सहमति बनी है।

  • विवाह समारोह शाम 6 बजे तक 200 लोगों की क्षमता के साथ किए जा सकेंगे।
  • रेस्टोरेंट 30 प्रतिशत की क्षमता के साथ बैठकर खाना खिलाने के साथ चालू किए जा सकेंगे।
  • जिम एक समय में अधिकतम 5 लोगों की संख्या के साथ चालू की जा सकेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *