बंगाल दीदी की हैट्रिक आसाम पुडुचेरी में कमल तो केरल में लाल सलाम तमिलनाडु पर स्टालिन का कब्जा

पश्चिम बंगाल (West Bengal) समेत 4 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में हुए विधान सभा चुनावों के नतीजे (Assembly Election Results 2021) आने शुरू हो गए हैं.  रुझानों के मुताबिक बंगाल में टीएमसी को बहुमत हासिल हो चुका है, हालांकि सूबे में बीजेपी कड़ी टक्कर देती दिख रही है. वहीं असम में बीजेपी  और तमिलनाडु में डीएमके का डंका बजता दिख रहा है.

रुझानों में लेफ्ट के गढ़ केरल में एलडीएफ सत्ता में वापसी करता दिख रहा है और उसने बहुमत का आंकड़ा भी हासिल कर लिया है. वहीं पुदुचेरी में बीजेपी को बढ़त मिलती दिख रही है. देर शाम तक नतीजों की तस्वीर और साफ होती जाएगी और शाम तक इन पांच प्रदेशों के नतीजे साफ होने का अनुमान है.

बंगाल में ममता की हेट्रिक

बंगाल की 292 में से 292 सीटों के रुझान सामने आ चुके हैं, इनमें 205 सीटों पर टीएमसी और 84 पर बीजेपी को बढ़त हासिल है. सबसे अहम बात ये है कि ममता बनर्जी को नंदीग्राम में सुवेंदु अधिकारी से कड़ी टक्कर मिल रही है.  अंतिम समाचार मिलने तक ममता बनर्जी आगे थीं ।टॉलीगंज में बीजेपी प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो भी चल रहे हैं. बहुमत का हासिल करने के लिए 147 सीटों का जादुई आंकड़ा चाहिए जिसे TMC ने हासिल कर लिया है.

सिंगूर सीट पर तृणमूल कांग्रेस के मंत्री एवं प्रत्याशी बेचाराम मन्ना भाजपा के रबिंद्रनाथ भट्टाचार्य से आगे चल रहे हैं. भवानीपुर से टीएमसी के प्रत्याशी, शोभनदेब चट्टोपाध्याय आगे चल रहे हैं और कोलकाता पोर्ट निर्वाचन क्षेत्र से फरहाद हाकिम भी आगे चल रहे हैं.

केरल में पुनः कामरेड सरकार

केरल के रुझानों की बात करें तो वहां पिनराई विजयन के अगुवाई वाले लेफ्ट फ्रंट की सत्ता में वापसी के संकेत हैं. रुझानों में LDF को बहुमत भी हासिल हो गया है और 140 सीटों में से 70 पर लेफ्ट फ्रंट को बढ़त हासिल है. वहीं कांग्रेस के सहयोगी UDF को 45 सीटों पर बढ़त है. सत्ता में अदली-बदली का इतिहास रखने वाले केरल में एलडीएफ वापसी करके इतिहास रचने की ओर है.

केरल में मुख्यमंत्री विजयन, स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा, पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी, विपक्ष के नेता रमेश चेन्नीथला अपनी-अपनी सीटों पर आगे चल रहे हैं. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के सुरेंद्रन कोन्नी और मंजेश्वरम से पीछे चल रहे हैं. तमिलनाडु में सत्ता बदली के संकेत हैं. वहां की 234 सीटों में से डीएमके को 131 और सत्ताधारी AIADMK को सिर्फ 93 सीटों पर बढ़त है।

असम पुडुचेरी में खिला कमल

पूर्वोत्तर के राज्य असम में सत्ताधारी बीजेपी की वापसी होती दिख रही है. असम की 126 सीटों में से बीजेपी को 79 और कांग्रेस को 43 सीटों पर बढ़त हासिल है. मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्व सरमा और एजीपी प्रमुख एवं मंत्री अतुल बोरा क्रमश: मजूली, जालुकबारी और बोकाखत से आगे चल रहे हैं.

कांग्रेस विधायक दल के प्रमुख देबब्रत साइकिया और उनके सहायक रकीबुल हुसैन क्रमश: नाजिरा और समागुरी से पीछे चल रहे हैं. वहीं पुदुचेरी की बाक करें तो यहां की 30 सीटों में बीजेपी और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर है. बीजेपी को 8 और कांग्रेस को 3 सीटों में बढ़त हासिल है. यहां अभी तक 17 सीटों के रुझान आए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *