Google search engine
Homeविदेश'अंतरिक्ष के शैतान' ने उगली इतनी ऊर्जा, जितनी हमारा सूरज 1 लाख...

‘अंतरिक्ष के शैतान’ ने उगली इतनी ऊर्जा, जितनी हमारा सूरज 1 लाख साल में उगलता

अंतरिक्ष में एक शैतान तारा मिला है, जिससे निकली ऊर्जा की एक लहर हमारे सूरज की ताकत से करोड़ों गुना ज्यादा है. इस तारे ने एक सेकेंड के दसवें हिस्से में इतनी ऊर्जा छोड़ दी, जितना हमारा सूरज एक लाख साल में उगलता. यह तारा एक घना मैग्नेटिक स्टार है. ऐसे तारे को मैग्नेटार (Magnetar) कहते हैं. यह एक न्यूट्रॉन स्टार (Neutron Star) है.

इस शैतान तारे का नाम है GRB2001415. इसने बिना किसी चेतावनी के अंतरिक्ष में ऐसी ऊर्जा की लहर फेंकी, जिससे कई तारों में भूकंप आ गया. इस भूकंप को स्टारक्वेक (Starquake) कहते हैं. यह हमारे सूरज से हजारों गुना ज्यादा चमकदार है. इसके बारे में वैज्ञानिकों को ज्यादा जानकारी अभी तक नहीं मिल पाई है, क्योंकि यह काफी दूर स्थित है. लेकिन वैज्ञानिकों ने हाल ही में इस तारे से निकली एक ऊर्जा की लहर को देखा.

स्पैनिश जर्नल में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक इस मैग्नेटार ने एक सेकेंड के 10वें हिस्से में इतनी ज्यादा ऊर्जा वाली लहर फेंकी, जितनी ऊर्जा हमारा सूरज एक लाख साल में देता. न्यूट्रॉन स्टार का जन्म तब होता है, जब कोई बड़ा तारा अपनी जिंदगी खत्म कर रहा होता है. जैसे ही तारा सुपरनोवा में बदलता है, उसके केंद्र में मौजूद प्रोटोन्स और इलेक्ट्रॉन्स टूटते हैं. वह उच्च गति में घूमते हुए अत्यधिक गुरुत्वाकर्षण पैदा करते हैं. जिससे भयानक चुंबकीय शक्ति की उत्पत्ति होती है.

नासा के मुताबिक न्यूट्रॉन स्टार 1.3 से 2.5 सोलर मास के बराबर होता है. एक सोलर मास यानी हमारे सूरज का वजन. या फिर 3.30 लाख धरती के बराबर का वजन. न्यूट्रॉन स्टार में पदार्थ इतने ज्यादा घनत्व के साथ जुड़े होते हैं, कि अगर वो एक चीनी के क्यूब के बराबर भी हुआ तो वह 100 करोड़ टन के बराबर वजन का होगा. इसकी चुंबकीय शक्ति इतनी ज्यादा होती है कि जितनी 1000 हाइड्रोजन बम के बराबर नहीं होती.

इन मैग्नेटार को खोजा है स्पैनिश रिसर्च काउंसिल के इंस्टीट्यूट फॉर एस्ट्रोफिजिक्स ऑफ एंडालूसिया के प्रोफेसर अलबर्टो जे. कास्त्रो टिराडो और उनकी टीम ने. अलबर्टो ने बताया कि मैग्नेटार में एक हजार न्यूट्रॉन स्टार से ज्यादा ताकत होती है. यह कोई सामान्य न्यूट्रॉन स्टार नहीं है. इसके सामने हमारा सूरज कुछ भी नहीं है. अगर कोई मैग्नेटार शांत भी है, तो भी वह हमारे सूरज से 1 लाख गुना ज्यादा चमकदार होगा.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments