Google search engine
Homeग्वालियर अंचलभितरवार के 33 से ज्यादा गांव में गम्भीर जल संकट ,पलायन को...

भितरवार के 33 से ज्यादा गांव में गम्भीर जल संकट ,पलायन को मजबूर लोग सांसद की पहल पहल पर पहुंचा वैज्ञानिकों का दल

लोकसभा में सांसद शेजवलकर की मांग पर घटते भू-जल स्तर के कारणों का पता लगाने भितरवार अंचल पहुंचा भूजल वैज्ञानिकों का दल, यह दल गिरते भू-जल स्तर का पता लगाने एवं इन क्षेत्रों में जल कैसे उपलब्ध कराया जाये इस पर अपनी रिपोर्ट पेश करेगा ,सांसद ने जताया केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री का आभार

ग्वालियर / सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर के भितरवार विधानसभा के बरई‚ रानीघाटी‚ आरोन‚ पाटई सहित 33 से भी अधिक गांव लगातार घटते भू-जल स्तर का मुद्दा लोकसभा में उठाने के पश्चात जल शक्ति मंत्रालय भारत सरकार की ग्राउंड वाटर एक्सपर्ट कमेटी, सेंट्रल बोर्ड भोपाल के वरिष्ठ भूजल वैज्ञानिक डॉ राकेश सिंह के नेतृत्व में आये भूजल वैज्ञानिकों के दल ने बुधवार को सांसद श्री शेजवलकर के साथ बैठक की। सांसद श्री शेजवलकर ने संसद में इन गांवों में लगातार घटते भू जल स्तर के कारणों एवं जल उपलब्ध कराने की संभावनाओं को लेकर जल विशेषज्ञ सर्वेक्षण टीम को भेजने की मांग केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री से की थी। सांसद श्री शेजवलकर की इसी मांग पर अब यह दल गिरते भू जल स्तर का पता लगाने एवं इन क्षेत्रों में जल कैसे उपलब्ध कराया जाये इस पर अपनी रिपोर्ट बनाकर पेश करेगा।
सांसद श्री शेजवलकर के साथ बैठक के दौरान वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ राकेश सिंह के साथ, भूजल वैज्ञानिक श्री के परमासिवम, श्री डीके सौरे के साथ लोक स्वास्थय यांत्रिकी विभाग के मुख्यं अभियंता श्री पीके मैडमवार, कार्यपालन यंत्री श्री वीके छारी, सहायक यंत्री श्री संजीव गुप्ता , जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री आशुतोष भगत सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे। सांसद श्री शेजवलकर ने दल के समक्ष ग्वालियर की भितरवार विधानसभा के 33 से अधिक गांवों की जल समस्या का उल्लेख करते हुये कहा कि इन गांवों में भू-जल स्तर 700 से 800 फीट तक नीचे चला गया है। किसान सिंचाई के लिये पानी के अभाव में पलायन करने के लिये मजबूर है । भूजल की वर्तमान स्थिति को सुधारने एवं समस्या के स्थायी समाधान की जरूरत है। सांसद श्री शेजवलकर ने कहा कि यहां पर सिंचाई के लिये पर्याप्त पानी की व्यवस्था होने से किसानों की आय बढेगी।
वरिष्ठ वैज्ञानिक श्री राकेश सिंह ने सांसद श्री शेजवलकर को अवगत कराया कि इन गांवों में लगातार घटते भू जल स्तर के कारणों एवं जल उपलब्ध कराने की संभावनाओं का विस्तृत सर्वेक्षण किया जा रहा है यहां पर व्याप्त जल की समस्या का स्थायी निराकरण हो सके हमारा यह प्रयास है। इसके लिये जिला प्रशासन के अन्य विभागों के परस्पर समन्वय की आवश्यकता होगी।
बैठक के दौरान सांसद श्री शेजवलकर ने जिला पंचायत सीईओ श्री आशीष तिवारी से भी इस केन्द्री य दल के साथ बैठक करने के लिये कहा है । सांसद श्री शेजवलकर ने श्री तिवारी से कहा कि लोक स्वास्थय यांत्रिकी, जल संसाधन, कृषि, सिंचाई ,वन सहित अन्य विभागों के साथ समन्वय से इन गांवों में व्याप्त जल समस्या का निराकरण के लिये योजना साकार हो सकती है।
यहां गौरतलव है कि सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने लोकसभा में नियम 377 के तहत भितरवार विधानसभा के बरई‚ रानीघाटी‚ आरोन‚ पाटई सहित 33 से भी अधिक गांव में लगातार घटते भू-जल स्तर के कारण जल संकट से जूझ रहे ग्रामीणों की इस समस्या से सदन को अवगत कराते हुये इसके निदान की मांग की थी ।
सांसद श्री शेजवलकर ने केन्द्रीय दल भेजने के लिये केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री श्री गजेन्द्र सिंह शेखावत का आभार व्यक्त किया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments