Google search engine
Homeदेशमुख्यमंत्री की बहन ने ही खोला विरोध का मोर्चा पुलिस ने गाड़ी...

मुख्यमंत्री की बहन ने ही खोला विरोध का मोर्चा पुलिस ने गाड़ी समेत क्रेन से उठवा लिया

तेलंगाना में आंध्र के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी की बहन वाईएस शर्मिला को अरेस्ट कर लिया गया है। सुबह वह विरोध प्रदर्शन करने के लिए तेलंगाना के मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव के सरकारी आवास की तरफ कार से समर्थकों के साथ जा रही थीं। इस दौरान गाड़ी समेत पुलिस ने क्रेन से उठवा लिया था। शर्मिला सहित कार को क्रेन से उठवाने का वीडियो वायरल होने के बाद राज्य की पुलिस की हर ओर आलोचना हो रही। शर्मिला राज्य सरकार के खिलाफ आंदोलित हैं। एक दिन पहले वारंगल में उनकी पार्टी वाएसआर तेलंगाना पार्टी और टीआरएस के बीच झड़प में कई गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गई थीं। मंगलवार को वह उन्हीं क्षतिग्रस्त गाड़ी में से एक में सवार होकर मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव के आवास की ओर जा रही थीं।

क्या है पूरा मामला?

वाईएसआर तेलंगाना पार्टी प्रमुख वाईएस शर्मिला,राज्य में सत्तारूढ़ टीआरएस के खिलाफ पदयात्रा कर रही हैं। काफी दिनों से चल रही यह पदयात्रा सरकार के नीतियों के खिलाफ है। बताया जा रहा है कि सोमवार को जब वाईएस शर्मिला की पदयात्रा वारंगल पहुंची तो वहां उनके कार्यकर्ताओं और टीआरएस के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई। इस झड़प में शर्मिला के पदयात्रा में चल रही गाड़ियां क्षतिग्रस्त हुई हैं। इस बवाल के बाद शर्मिला व उनके कई समर्थकों को पुलिस ने कुछ समय के लिए हिरासत में भी लिया था। मंगलवार को सुबह शर्मिला विरोध स्वरूप उन टूटी गाड़ियों में सवार होकर मुख्यमंत्री केसीआर के आधिकारिक आवास की ओर रवाना हुईं। वह एक गाड़ी में बैठकर उधर निकली थीं तो पुलिस ने रोकते हुए उनकी गाड़ी को ही क्रेन से उठवा लिया।

शर्मिला को कार सहित पुलिस ने क्रेन से टांग लिया

कार ड्राइव कर शर्मिला जैसे ही मुख्यमंत्री के अधिकारिक आवास प्रगति भवन जा रही थीं उसी वक्त पुलिस ने कार को क्रेन से उठवा लिया। कार में शर्मिला सवार थीं। विजुअल्स ने उसे कार में बैठे हुए दिखाया जा रहा है और क्रेन से उस कार को टो किया जा रहा है। उनके समर्थक और मीडियाकर्मी साथ-साथ पीछे-पीछे दौड़ रहे हैं।

पार्टी ने जारी किया बयान…

वाईएस तेलंगाना पार्टी ने कहा कि शर्मिला, वारंगल जिले में पदयात्रा कर रहीं थीं तो टीआरएस के गुंडों द्वारा उनके और पार्टी कार्यकर्ताओं के खिलाफ किए गए खूनी हमलों के विरोध और निंदा के निशान के रूप में निकलीं। मंगलवार को जैसे ही शर्मिला आगे बढ़ीं, हैदराबाद पुलिस ने उन्हें रोक दिया और उनके वाहन को एसआर नगर पुलिस स्टेशन तक ले गए। सोमवार को सत्ताधारी दल और शर्मिला की पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प वारंगल के नरसमपेट के बीच हुई।

मार्च से वाईएस तेलंगाना पार्टी कर रही हैं यात्रा

वाईएस तेलंगाना पार्टी की प्रमुख वाईएस शर्मिला, मार्च से तेलंगाना राज्य में पदयात्रा निकाली हैं। वह अबतक राज्य के विभिन्न हिस्सों में 3500 किलोमीटर की दूरी तय कर चुकी हैं। शर्मिला राज्य सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए जनता के बीच जा रही हैं। शर्मिला ने कहा कि उनकी पार्टी और वह पिछले 223 दिनों से समाज के विभिन्न वर्गों में जाकर लोगों की दुर्दशा को उजागर करने के लिए एक शांतिपूर्ण पदयात्रा कर रहे हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments